दंतेवाड़ा. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के दंतेवाड़ा (Dantewada) में नक्सल हिंसा (Naxal Violence) के खिलाफ सुरक्षा बल के जवानों को सफलता मिली है. दंतेवाड़ा (Dantewada) के कटेकल्याण एरिया में सक्रिय दो इनामी नक्सलियों (Nxalite) ने सरेंडर किया है. इन दोनों पर पर 5-5 लाख रुपए का इनाम घोषित थे. पुलिस (Police) का दावा है कि दोनों कई बड़ी वारदातों (Crime) में शामिल थे. इसमें श्यामगिरी ब्लास्ट, जिसमें 5 शहीद हुए थे. इसके अलावा सीआईएसएफ की बोलेरो ब्लास्ट में 7 शहीद, मदाड़ी ब्लास्ट 5 शहीद के साथ आधा दर्जन जनप्रतिनिधियों की हत्या में ये सरेंडर नक्सली शामिल थे.

दंतेवाड़ा (Dantewda) एसपी डॉ. अभिषेक पल्लव व कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा के समक्ष दोनों नक्सलियों (Nxalite) ने सरेंडर (Surrender) किया. पुलिस का दावा है कि दंतेवाड़ाप उपचुनाव (Dantewada By-Election) के ऐन पहले 50-50 किलोग्राम के आईईडी प्लांट करने में भी इन्हीं का हाथ था. एक कटेकल्याण एरिया कमेटी का सदस्य माडा उर्फ हड़मा तथा दूसरा एलएसओ कमांडर है. दोनों पर कई अपराध दर्ज हैं. समर्पित नक्सलियों को कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा और एसपी डॉ. अभिषेक पल्लव ने 10-10 हजार रुपए का प्रोत्साहन राशि चेक सौंपा.

परचेली में मिला टिफिन बम

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक दंतेवाड़ा के परचेली में पुलिस ने 7 किलोग्राम का टिफिन बम बरामद किया है. डीआरजी के जवानों ने सर्चिंग के दौरान टिफिन बम बरामद किए. इसके बाद उसे नदी किनारे डिफ्यूज किया गया. बताया जा रहा है कि जिस रास्ते पर टिफिन बम बरामद किया गया, वहीं से कुछ देर बाद प्रशासन के बड़े अधिकारी गुजरने वाले थे. समय रहते डीआरजी के जवानों ने टिफिन बम बरामद किया.