पीलीभीत. उत्तर प्रदेश के पीलीभीत जनपद में एक और मरीज में कोरोनावायरस (Coronavirus) की पुष्टि हुई है. यह जनपद से दूसरा मरीज है, जिसमें COVID 19 के संक्रमण की पुष्टि हुई है. स्वास्थ्य विभाग की निगरानी में मरीज का इलाज चल रहा है. दूसरा पॉजिटिव केस पहले से संक्रमित मरीज का बेटा है. बता दें कि सऊदी अरब से उमरा कर लौटी एक महिला में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई थी. इसके बाद अब उसके 33 वर्षीय बेटे में भी संक्रमण फ़ैल गया है. इसी के साथ उत्‍तर प्रदेश में COVID-19 पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 38 हो गई है.

केजीएमयू के प्रवक्ता डॉक्टर सुधीर सिंह ने बताया कि पीलीभीत निवासी एक व्यक्ति में कोरोनावायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई है. इसकी मां सऊदी अरब से लौटी थीं और उनसे इस वायरस का इन्फेक्शन बेटे को हुआ है. ऐसे में यह केस कांटेक्ट में आने का है जो चिंताजनक है. लिहाजा सभी लोगों को घरों में ही रहना है. जो भी बाहर से आया है वह खुद को क्वारंटाइन करे और कोई भी लक्षण दिखने पर स्वास्थ्य विभाग को सूचना दे.

यूपी में आंकड़ा पहुंचा 38


उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा जारी बुलेटिन के अनुसार, प्रदेश में अब तक कुल 38 लोगों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है. मंगलवार को प्रदेश में कोरोना वायरस की 5 लोगों में पुष्टि हुई थी. इस तरह पिछले 2 दिनों में प्रदेश में 9 कोरोना के मरीज़ मिल चुके हैं. मंगलवर को जिन लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई, उनमें नोएडा के 3 और पीलीभीत व शामली में 1-1 शख्स की रिपोर्ट शामिल है. इसके अलावा उत्तर प्रदेश की विभिन्न अस्पतालों में आज 72 संदिग्ध भर्ती हुए हैं.

पिछले दो दिनों में नोएडा का आंकड़ा तेज़ी से बढ़ता दिख रहा है. उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी बुलेटिन के अनुसार, अब तक उत्तर प्रदेश के आगरा में 8, गाजियाबाद में 3, नोएडा में 11, लखनऊ में 8, लखीमपुर खीरी में 1 और मुरादाबाद में 1, वाराणसी में 1, कानपुर में 1, पीलीभीत में 2, जौनपुर में 1 और शामली में 1 व्यक्ति में कोरोना की पुष्टि हुई है.

जांच में अब तक कुल 1493 टेस्ट निगेटिव पाए गए. 95 के टेस्ट का इंतजार है. इसके अलावा अंतरराष्ट्रीय सीमा पर 15 लाख 43 हज़ार से ज़्यादा लोगों की स्कैनिंग हुई है, जबकि नेपाल-भारत बॉर्डर पर 2188 गांव में सैनिटाइजेशन किया गया.