हैदराबाद । महिला युगल खिलाड़ी ज्वाला गुट्टा का मानना है कि राष्ट्रीय डोपिंग रोधी एजेंसी (नाडा) को बालीवुड अभिनेता सुनील शेट्टी की जगह किसी खिलाड़ी को अपना ब्रांड एंबेसडर बनाना चाहिये था। नाडा ने इससे पहले मंगलवार को शेट्टी को ब्रांड एंबेसडर के रूप में पेश किया और देश की डोपिंग रोधी एजेंसी को उम्मीद है कि उनके सेलीब्रिटी दर्जे से देश के खेलों को डोपिंग से दूर करने में मदद मिलेगी। ज्वाला ने यहां अपनी अकादमी को लांच करने के अवसर पर कहा, ‘‘मेरे अनुसार एक खिलाड़ी को नाडा का ब्रांड एंबेसडर बनाया जाना चाहिए था।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मुझे नहीं पता कि हम अभिनेताओं के प्रति क्यों आकर्षित होते हैं। समय आ गया है कि हम किसी खिलाड़ी को नाडा का ब्रांड एंबेसडर  बनाएं। यह खेलों की महत्वपूर्ण संस्था है, इसलिए मेरी नजर में खिलाड़ी आदर्श पसंद होता।’’ वहीं बीजिंग ओलंपिक के कांस्य पदक विजेता विजेंदर सिंह ने भी कहा है कि किसी खिलाड़ी को ब्रांड एंबेसडर बनाना अच्छी पसंद रहता हालांकि उन्हें शेट्टी के इस भूमिका में आने से भी कोई परेशानी नहीं है।