बाराबंकी । कोरोना वायरस को लेकर पुरी दुनिया मे हड़कम्प मचा हुआ है। हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पुरे भारत मे 21 दिनो के लिये लाँक डाउन करने का फैसला लिया जिसके बाद जनपद भर मे सन्नाटा पसरा रहा। लाँक डाउन की सूचना मिलते ही बीते शाम लोग जरूरी सामान लेने के लिये घरों से निकल पड़े। देखते देखते किराने व मेडिकल स्टोर की दुकानो पर भीड़ उमड़ पड़ी। जब की प्रशासन ने कहा था की लाँक डाउन मे सिर्फ जरूरत चीजों के लिये ही दुकाने निर्धारित समय से खुली रहेंगी । शहर के रेलवे स्टेशन, छाया चौराहा, निबलेट तिराहा, धनोखर तालाब, घण्टाघर, धर्मशाला, सिटी चौकी, बेगमगज, लखपेड़ाबाग, के प्रमुख मार्केट मे अच्छी खासी भीड़ देखी गई। मौके पर पहुँची पुलिस के अधिकारियों ने लोगो को समझाया की आप लोग परेशान ना हो लाँक डाउन के दौरान भी किसी चीज की परेशानी नही होगी। इसके बावजूद लोग नही माने ओर सामान खरीदने के लिये लगे रहे। आपको बताते चले की जैसे ही पीएम नरेन्द्र मोदी का 21 दिन लाँक डाउन का फरमान आया तो हर कोई कह रहा था की हो सकता है इसकी तारीख आगे भी बढ़ सकती है। फिर किया था जो जहाँ था वहीं से अपने घरो का सामान लेने के लिये निकल पड़ा । जिलाधिकारी डाक्टर आदर्श कुमार सिंह व पुलिस अधीक्षक अरविन्द चतुर्वेदी ने लोगो से अपील की है की आप लोग अपने अपने घरो से ना निकले क्योंकि पुरे हिंदुस्तान मे प्रधानमंत्री के आदेश पर 21 दिनो के लिये लाँक डाउन किया गया है। उन्होंने ये भी कहा की कोरोना वायरस को हराने के लिये आप सभी लोग का साथ चाहिये अगर ऐसा हो गया तो हम लोग कोरोना पर विजय पा सकेंगे। डीएम व एसपी की अपील का असर ये हुवा की लोगों ने लाँक डाउन का पालन करते हुवे अपने घरो से नही निकले। जिसके चलते सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहा। 
बाक्स 
सड़कों पर फर्राटा भर रहे वाहनों का पुलिस ने किया चालान 
जहां पूरा देश लॉक डाउन का पालन कर रहा है तो वहीं कुछ वाहन सड़कों पर फर्राटा भरते हुए नजर आए जिसको लेकर बाराबंकी पुलिस ने उनका चालान काटते हुए उन्हें कड़ी हिदायत देते हुए छोड़ा और कहा कि अब दोबारा ऐसी गलती ना करना प्राप्त जानकारी के अनुसार कोठी थाना पुलिस ने करीब आधा दर्जन से अधिक वाहनों का चालान करते हुए कार्यवाही की है पुलिस के मुताबिक बताया जा रहा है कि यूपी 41 टी 18 89 तथा यूपी 78सीएन 67 68 समेत अन्य गाड़ियों का चालान किया गया है पुलिस ने बताया कि जो वाहन नियमों का उल्लंघन करते हुए गन्ना लादकर जा रहे थे जिनके ऊपर कारवाई करते हुए चेतावनी दी गई है।