बिलासपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के सीएम भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) की महत्वाकांक्षी योजनाओं में से एक नरवा, गरुवा, घुरूवा, बारी के लिए बिलासपुर के आरक्षित जमीन पर भू-माफियाओं ने कब्जा कर लिया है. बिलासपुर (Bilaspur) के तारबाहर में गौठान के जमीन में भू-माफिया द्वारा कब्जा कर 4 से 6 मंजिला फ्लैट बनाकर करोड़ो में बेचने का मामला सामने आया है. इसको लेकर बिलासपुर के ही पवन गोयल ने हाई कोर्ट में जनहित याचिका दायर की है.
गोठान की जमीन पर कब्जा करने के इस मामले में पूर्व में ही बिल्डर रजनीश सेठ समेत अन्य लोगों को हाई कोर्ट चीफ जस्टिस के डिवीजन बेंच ने सुनवाई के दौरान खरीदी-बिक्री करने वालो को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया था, लेकिन अभी तक किसी का जवाब नही आया है. इस वजह से मामले को 4 सप्ताह के लिए आगे बढ़ा दिया गया है.


 ये है मामला
सीएम भूपेश बघेल ने नरवा, गरवा, घुरवा बारी योजना के तहत गौठान का निर्माण करने का निर्देश प्रदेश के जिलों में प्रशासन को को दिए हैं. इसमें बिलासपुर तारबाहर क्षेत्र में स्थित गठान की जमीन में भू माफिया के द्वारा कब्जा कर चार से छह मंजिला फ्लैट का निर्माण करवा दिया गया है. मामले की जानकारी सूचना के अधिकार के तहत निकाली गई. तब जाकर इसका खुलासा हुआ. याचिकाकर्ता पवन गोयल ने हाई कोर्ट में जनहित याचिका दायर गौठान की जमीन में कब्जा किये जाने की जांच और आरोपियों पर कार्रवाई करने की मांग की है.