जयपुर. राजस्थान में नए साल में होने वाले पंचायती राज आम चुनाव 2020 (sarpanch chunav 2020) के लिए पंचायतीराज विभाग ने नवसृजित और पुनर्गठित पंचायत समितियां एवं ग्राम पंचायतों की निर्वाचक नामावलियों का कार्यक्रम जारी कर दिया है. इस संबंध में राज्य सरकार ने आदेश जारी कर फोटोयुक्त मतदान सूचियों  (voter list 2020 rajasthan) के विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम से जुडे़ अधिकारियों एवं कर्मचारियों के स्थानान्तरणों पर 16 दिसम्बर से 7 फरवरी 2020 तक प्रतिबन्ध लगा दिए गए हैं.

इन अधिकारियों के तबादलों पर रोक लगी
आदेश के अनुसार जिला निर्वाचन आधिकारयों (कलेक्टर), उप जिला निर्वाचन अधिकारियों (अति जिला कलेक्टर), निर्वाचन रजिस्ट्रीकरण अधिकारियों (उपखण्ड अधिकारी/सहायक कलेक्टर), सहायक निर्वाचन रजिस्ट्रीकरण अधिकारियों (तहसीलदार/नायब तहसीलदार) और पुनरीक्षण कार्यक्रम के दौरान नियुक्त किए जाने वाले बूथ लेवल अधिकारियों अथवा पदाभिहित अधिकारियों एवं सुपरवाइजरों के पद पर सामान्यतया फील्ड स्तर पर कार्यरत विभिन्न स्तर पर कार्यरत कर्मचारियों के स्थानान्तरणों पर 16 दिसम्बर से 7 फरवरी 2020 तक प्रतिबन्ध रहेगा.

मुख्य निर्वाचन अधिकारी की अनुमति जरूरी

प्रशासनिक सुधार एवं समन्वय विभाग के प्रमुख शासन सचिव डॉ. आर वेंकटेश्वरन ने बताया कि विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यकम अवधि में अति आवश्यक मामलों में आयोग अथवा मुख्य निर्वाचन अधिकारी की पूर्व अनुमति से ही उक्त अधिकारियों अथवा कर्मचारियों के स्थानान्तरण एवं पदस्थापन के प्रस्ताव राज्य सरकार को प्रस्तुत किए जा सकेंगे.