नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी (आप) के राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने कहा कि दिल्ली में लगातार भाजपा कोरोना संकट में दिल्ली सरकार का सहयोग करने की बजाय मौत के आंकड़ों पर घटिया आरोप लगाकर ओछी राजनीति कर रही थी।

सिंह ने सोमवार को पत्रकार वार्ता में कहा कि कल माननीय उच्च न्यायलय के मौत के आंकड़ों पर दायर याचिका खारिज करने से साफ हो गया है कि भाजपा निम्न स्तर की राजनीति कर रही है।उन्होंने कहा कि हाईकोर्ट ने अपने आदेश में माना है कि सरकार द्वारा जो भी आंकड़ा ज़ारी किये गए है, उनमें किसी भी तरह की छेड़छाड़ नही की गई है।

सिंह ने बताया कि हाईकोर्ट ने साथ में ये भी माना है कि डेथ ऑडिट कमिटी पूरी तरह से सक्षम है और केंद्र सरकार की गाइडलाइन्स के अनुसार ही आंकड़े जारी किए है। संजय सिंह ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि दिल्ली में लगातार भाजपा कोरोना संकट में दिल्ली सरकार का सहयोग करने की बजाय मौत के आंकड़ों पर घटिया आरोप लगाकर ओछी राजनीति कर रही थी।

इससे पहले उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा, ‘मुझे खुशी है कि ऐसे संवेदनशील मसले पर कुछ विपक्षी नेताओं द्वारा की जा रही ओछी राजनीति पर माननीय उच्च न्यायालय ने विराम लगा दिया है।’ आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता राघव चड्ढा ने भी भाजपा से माफी की मांग की और कहा, ‘कोरोना वायरस के संबंध में दिल्ली सरकार प्रतिदिन लोगों को सही आंकड़े दे रही है।’

चड्ढा ने एक बयान में कहा, ‘ऐसे स्वास्थ्य और मानवीय संकट की स्थिति में भारतीय जनता पार्टी दिल्ली सरकार के खिलाफ निराधार आरोप लगाकर घटिया राजनीति कर रही है।’

उल्लेखनीय है कि दिल्ली सरकार द्वारा जारी किए जा रहे आंकड़ों के खिलाफ दिल्ली हाई कोर्ट में एक याचिका दायर की गई थी,जिसकी सुनवाई पर कोर्ट दिल्ली सरकार द्वारा जारी किए जा रहे आंकड़ों को सही ठहराया है। याचिका को खारिज करते हुए कोर्ट ने स्पष्ट किया कि दिल्ली सरकार की डेथ ऑडिट कमेटी खुद में पूरी तरह से सक्षम है। उसके आंकड़ों को गलत नहीं ठहराया जा सकता है।