भोपाल। सदभावना के पर्व दशहरा के सार्वजनिक मंच से भाजपा सांसद एवं तत्थाकथित साध्वी प्रज्ञा ठाकुर द्वारा मॉ नर्मदा एवं गंगा भक्तो पर की गई अनर्गल टिप्पणी एवं मॉ नर्मदा परिक्रमा करने वालो को पापी, अधर्मी करने के विरोध में कांग्रेस नेताओ ने विरोध स्वरुप शीतलदास की बगिया में नाव में सवार होकर तालाब के बीच पहुंचे। उसके बाद पंडितो द्वारा मंत्रोचारण कर साध्वी प्रज्ञा सिंह के फोटो का मॉ नर्मदा का जल छिडकर शुद्धिकरण किया गया। इसके बाद उनकी सद्बुद्धि के लिए मंत्रोचारण के साथ यज्ञ भी किया गया। इस मौके पर पूर्व मंत्री एवं विधायक पीसी शर्मा ने कहा कि सदभावना मंच से तथाकथित साध्वी एवं भाजपा सांसद द्वारा सारी मर्यादाएं तोडकर कांग्रेसियों को गालियां दी गई एवं मॉ नर्मदा एवं गंगा के भक्तो को अधर्मी एवं पापी बताकर उनका अपमान किया गया यह निंदनीय है। इतना ही नही उन्होने सिंधी समाज के एक व्यक्ति को रावण की संज्ञा भी दी गई इससे पहले भी वे देशभक्त शहीद हेमंत करकरे को देशद्रोही कह चुकी है। इन बातो को संज्ञान लेकर उन पर कार्यावही होना चाहिए उन्होने न केवल नर्मदा मॉ का अपना किया बल्कि नर्मदा परिक्रमा करने वालो को अधर्मी बताकर उनका भी अपमान किया इसकी जितनी निंदा की जाये कम है। यदि प्रज्ञा ठाकुर नवरात्र में मातारानी के पंडाल में कबड्डी खेल सकती है, गरबा कर सकती है तो उन्हें व्हील चेयर की जरुरत नही है। शर्मा ने माननीय  कोर्ट से इन सभी बातो पर संज्ञान लेने की अपील भी की।  
ये हुए शामिल-
पूर्व मंत्री एवं विधायक पीसी शर्मा, कांग्रेस जिलाध्यक्ष कैलाश मिश्रा. नर्मदा परिक्रमावासी रविन्द्र साहू, परितोष नंदी, पुरुषोत्तम शुक्ला, नरेन्द्र सैयाम, चंदन विश्वकर्मा, अनिल पाटिल, रामपाल घोसले, अभिषेक तिवारी सहित बडी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता शामिल हुए।