नई ‎दिल्ली । निजी क्षेत्र के डीसीबी बैंक का मुनाफा वित्त वर्ष 2019-20 की मार्च तिमाही में 28 प्रतिशत गिरकर 69 करोड़ रुपए पर आ गया। बैंक ने एक बयान में बताया कि आलोच्य तिमाही के दौरान उसकी कुल आय साल भर पहले के 400 करोड़ रुपए से 8.5 प्रतिशत बढ़कर 434 करोड़ रुपए हो गई। पूरे वित्त वर्ष 2019-20 के दौरान बैंक का कर भुगतान के बाद शुद्ध लाभ चार प्रतिशत बढ़कर 2018-19 के 325 करोड़ रुपए की तुलना में 338 करोड़ रुपए रहा। इस दौरान आय 10.5 प्रतिशत बढ़कर 1,656 करोड़ रुपए हो गई। यह 2018-19 में 1,499 करोड़ रुपए रही थी। बैंक ने कहा कि पूरे वित्त वर्ष 2019-20 और मार्च तिमाही में कोविड-19 को लेकर नियामकीय पैकेज प्रावधान करने से लाभ 63 करोड़ रुपए कम हुआ। बैंक ने दिशानिर्देशों के आधार पर सामान्य स्थिति की तुलना में अधिक प्रावधान किया। इस दौरान बैंक की संपत्ति की गुणवत्ता में भी गिरावट आई। बैंक की एकीकृत गैर-निष्पादित परिसंपत्ति (एनपीए) साल भर पहले के 1.84 प्रतिशत से बढ़कर 2.46 प्रतिशत हो गई। शुद्ध एनपीए भी 0.65 प्रतिशत से बढ़कर 1.16 प्रतिशत हो गया।