इंदौर. लॉक डाउन (lockdown) में थोड़ी रियायत मिलते ही अपराधी (criminal) सक्रिय हो गए हैं. कोरोना के रेड जोन (red zone) शहर इंदौर (indore) में क्राइम ब्रांच पुलिस (crime branch police) ने अवैध हथियारों के सप्लायर एक सिकलीगर सहित 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. ये शहर के आदतन अपराधियों को हथियार सप्लाई करने आए थे.इनके कब्जे से कुल 35 अवैध हथियार (illegal weapon)बरामद किए गए. पिछले 5 साल में अवैध हथियारों के संबंध में पुलिस की ये सबसे बड़ी कार्रवाई है.

इंदौर की क्राइम ब्रांच पुलिस ने आज़ाद नगर थाना इलाके से दो ऐसे बदमाशों को गिरफ्तार किया जो शहर में आदतन बदमाशों को हथियार सप्लाय करने पहुंचे थे. पुलिस ने कुल छह बदमाशों को गिरफ्तार किया है. इंदौर शहर से लगभग 150 किलोमीटर दूर बड़वानी के अंजड़ से सिकलीगर दिलावर सिंह ये अवैध हथियार सप्लाय करने आज़ाद नगर आया था. लेकिन क्राइम ब्रांच को इसकी खबर लग गयी. पुलिस ने जाल बिछाकर दिलावर सिंह हिरासत में लिया और पूछताछ शुरू की तो उसने धीरे-धीरे अपने पूरे नेटवर्क की जानकारी दे दी. बदमाश ने अपने अन्य साथियों के नाम भी क़बूले.
6 आरोपी गिरफ्तार

पुलिसिया पूछताछ में इस बात की जानकारी मिली है कि दिलावर सिंह इससे पहले भी हथियार बनाकर बेचने के जुर्म में गिरफ्तार हो चुका है.उस पर करीब एक दर्जन अपराध दर्ज हैं. हथियार सप्लाय करने आये दिलावर सिंह ने पुलिस को कई ऐसे नाम बताए जिन्होंने ऑर्डर देकर हथियार मंगवाए थे. पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर अलग अलग थाना इलाके से संजय, रवि, अनिल, अश्विन मराठा,मनीष समेत कुल छह आरोपियों को गिरफ्तार किया.

12 पिस्टल, 23 कट्टे बरामद

पुलिस ने बदमाशों के कब्जे से 12 पिस्टल और 23 कट्टे सहित कुल 35 अवैध हथियार और 7कारतूस बरामद किए हैं. हथियार खपाने आये बदमाश दिलावर सिंह ने बताया कि वो हथियार सप्लाय करने आया था. वो ग्राहकों को हथियार चलाकर दिखाता है,ग्राहक के संतुष्ट होने के बाद ही वह हथियार की डिलीवरी देता है. इसलिए कारतूस साथ लेकर आया था.

5 साल में सबसे बड़ी कार्रवाई

इंदौर आईजी विवेक शर्मा के मुताबिक़ क्राइम ब्रांच को महत्त्वपूर्ण जानकारी मिली थी कि बड़वानी इलाके का सिकलीगर हथियार की बड़ी खेप सप्लाय करने के लिए शहर में दाखिल हुआ है.पुलिस ने दिलावर सिंह को हिरासत में लिया और पूछताछ शुरू की. आरोपी ने अपना जुर्म कबूल किया और हथियार सप्लाय करने में मददगार और खरीददार के बारे में जानकारी दी. आरोपी की निशानदेही पर अन्य पांच लोगों को हिरासत में लिया. पुलिस ने कुल 35 अवैध हथियार सहित कारतूस बरामद किए हैं.यह बीते पांच वर्षो की इंदौर की सबसे बड़ी कार्रवाई है , जब एक ही वक़्त पर इतनी बड़ी संख्या में हथियार जब्त किए गए हो.