मुम्बई । भारतीय क्रिकेट टीम के क्षेत्ररक्षण कोच आर. श्रीधर ने कहा है कि देश के शीर्ष क्रिकेटरों के लिए चार चरण का अभ्यास कार्यक्रम तैयार किया जा रहा है। इससे क्रिकेटर लॉकडाउन के कारण मिले ब्रेक के बाद लय हासिल कर सकेंगे। इसके लिए शिविर शुरू होने के बाद फिटनेस हासिल करने के लिए चार से छह सप्ताह के अभ्यास का समय मिलेगा। श्रीधर ने कहा कि कोरोना महामारी के कारण रुकी खेल गतिविधियों के फिर से शुरू होने के बाद क्रिकेटरों को एक बार फिर  व्यस्त अंतरराष्ट्रीय कार्यक्रम के लिए तैयार रहना होगा। उन्होंने कहा, 'जब हमें बीसीसीआई से राष्ट्रीय शिविर शुरु करने की तारीख मिल जाएगी तो हम शुरुआती स्तर से काम करना शुरू कर सकते हैं। सबसे बड़ी चुनौती यह होगी कि सही तरीके से आगे बढ़ें क्योंकि खिलाड़ी 14 या 15 सप्ताह के बाद खेलते समय अति उत्साहित हो सकते हैं।' श्रीधर ने खिलाड़ियों को आगाह किया है कि शुरुआती स्तर पर जरूरत से ज्यादा अभ्यास करने से चोटिल होने का खतरा रहेगा। उन्होंने कहा, 'शुरुआत में हमें उन्हें हल्का कार्यभार देना होगा। इसके बाद उसे बढ़ाना होगा। इसके तहत पहले चरण में हल्की गति से हल्का अभ्यास करना होगा, दूसरे चरण में गति को हल्का रखते हुए अभ्यास को बढ़ाना होगा। इसके बाद गति और अभ्यास दोनों के स्तर को बढ़ाना होगा।' साथ ही कहा कि खिलाड़ियों को टेस्ट मैच के स्तर पर आने के लिए कम से कम छह सप्ताह का समय लगेगा।