मुम्बई ।  भारतीय टीम के टेस्ट विशेषज्ञ बल्लेबाज के नाम से लोकप्रिय चेतेश्वर पुजारा ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अगले माह एडिलेड में शुरू हो रही चार टेस्ट मैचों की सीरीज में छह हजार रन पूरे कर सकते हैं। पुजारा यदि यह उपलब्धि हासिल कर लेते हैं तो वह टेस्ट क्रिकेट में 6000 रन बनाने वाले 11वें भारतीय बन जाएंगे। अभी तक गुंडप्पा विश्वनाथ (6080), मोहम्मद अजहरूद्दीन (6215), दिलीप वेंगसरकर (6868), सौरभ गांगुली (7212), विराट कोहली (7240), वीरेंद्र सहवाग (8503), वीवीएस लक्ष्मण (8781), सुनील गावस्कर (10122), राहुल द्रविड़ (13265) और सचिन तेंदुलकर (15921) हैं। पुजारा ने अपना आखिरी टेस्ट इस साल फरवरी-मार्च में न्यूजीलैंड के खिलाफ क्राइस्टचर्च में खेला था। इसके बाद वह आठ महीने से अधिक समय तक कोरोना के कारण क्रिकेट मैदान से बाहर रहे। 
पुजारा 2018-19 के पिछले ऑस्ट्रेलियाई दौरे में सबसे सफल बल्लेबाज रहे थे और भारत को 2-1 से सीरीज जिताने में उनकी अहम भूमिका रही थी। पुजारा ने चार टेस्ट मैचों में तीन शतकों और एक अर्धशतक की मदद से 521 रन बनाए थे जो दोनों टीमों के खिलाड़ियों में सबसे ज्यादा थे। यहां तक कि कप्तान विराट कोहली भी उनसे पीछे थे। 
इससे अंदाजा होता है कि भारतीय टीम बल्लेबाजी के मामले में पुजारा पर कितनी आश्रित है। पुजारा पर इस सीरीज के दौरान ज्यादा जिम्मेदारी रहेगी क्योंकि कप्तान विराट एडिलेड में पहला टेस्ट खेलने के बाद स्वदेश लौट जाएंगे।