नई दिल्ली: भारतीय टीम के ओपनर शिखर धवन (Shikhar Dhawan) ने पाकिस्तान (Pakistan) को खरी-खरी सुनाते हुए कहा कि वह भारत के आपसी मामलों में दखल न दें. धवन ने साफ कहा कि कि पाकिस्तान को पहले अपना यहां के हालात देखना चाहिए, उसके बाद ही दूसरे देशों के मामलों में टांग अड़ानी चाहिए.

धवन ने एक प्राइवेट न्यूज चैनल से बातचीत में कहा, ''अगर कोई हमारे देश के बारे में कुछ कहेगा तो निश्चित रूप से हमें खड़ा होना पड़ेगा. हमें ऐसे बाहरी लोग नहीं चाहिए जो हमारे देश पर बयान दें. उन्हें ये देखना चाहिए कि उनका देश कैसा है. पहले उन्हें अपने देश के हालात ठीक करने चाहिए, फिर दूसरों को सलाह देना चाहिए. एक कहावत है कि जिनके खुद के घर कांच के होते हैं वो दूसरों के घरों पर पत्थर नहीं फेंका करते.''

ऐसा पहली बार नहीं है जब धवन ने पाकिस्तान पर हमला बोला है. अप्रैल के महीने उन्होंने शाहिद अफरीदी (Shahid Afridi) को भी जवाब दिया था. अफरीदी ने उस दौरान कश्मीर पर बयान दिया था. इस पर भी धवन ने कहा थी भारत को बाहरी लोगों के बयान की जरूरत नहीं है खासकर कश्मीर मुद्दे पर. 

धवन ने अपने ट्वीट में कहा था, "पहले खुद देश की हालत सुधारो. अपने सोच अपने पास रखो. अपने देश का हम जो कर रहे हैं, वो अच्छा ही है और आगे जो करना है, वो हमें अच्छे से पता है. ज्यादा दिमाग मत लगाओ." 
इसी बीच, धवन ने युवा विकेटकीपर ऋषभ पंत का बचाव किया. पंत के बारे में उन्होंने कहा, "ऋषभ बहुत प्रतिभाशाली है और मुझे पूरा विश्वास है कि वह टीम इंडिया में लंबे समय तक खेलेगा. वह बहुत मेहनत कर रहा है. ऐसा बहुत बार होता है जब आप रन नहीं बना पाते लेकिन आप उन परिस्थितियों से सीखते हैं. यह हर किसी के साथ होता है और मुझे पूरा विश्वास है कि वह इससे सीखेगा."