कोलकाता । अनुभवी विकेटकीपर बल्लेबाज पार्थिव पटेल ने कहा है कि आजकल युवा विकेटकीपरों को राष्ट्रीय टीम में जगह पक्की करने के लिये पर्याप्त अवसर नहीं मिल रहे हैं। पार्थिव ने कहा कि विकेटकीपरों को लगातार अवसर मिलने चाहिये तभी वे अपनी क्षमता साबित कर पायेंगे। उन्होंने कहा कि टेस्ट टीम में रिधिमान साहा अभी लगातार खेल रहे हैं पर सीमित ओवरों के प्रारूप में कोई विकेटकीपर तय नहीं हुआ है। सीमित ओवरों में ऋषभ पंत अपने प्रदर्शन में निरंतरता की कमी से जगह पक्की नहीं कर पाये हैं। वहीं  लोकेश राहुल को विकेटकीपिंग की अतिरिक्त जिम्मेदारी संभालनी पड़ रही है। सबसे कम उम्र में पदार्पण करने वाले इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने इंस्टाग्राम पर कहा ,‘‘ मुझे नहीं लगता कि हमें कोई स्थायी विकेटकीपर मिलने वाला है। भारत ए के पास केएस भरत है। टेस्ट में साहा नंबर सबसे बेहतर विकेटकीपर हैं पर एकदिवसीय में ऋषभ या राहुल में से किसी की जगह पक्की नहीं है जिससे टीम के प्रदर्शन पर प्रभाव पड़ रहा है। स्थायी विकेटकीपर होने से ही टीम बेहतर प्रदर्शन करने में सफल रहेगी।